ग्राहक सेवा केंन्द्र (CSP) कैसे खोलें, पूरी जानकारी हिन्दी में

अगर आप खुद का कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हो लेकिन आपके पास बहुत ज्यादा पैसे नही हैं। अगर आपको बैंकिंग सेक्टर में दिलचस्पी है ये बिजनेस आईडिया आपके लिये सबसे बेहतर है। आप ग्राहक सेवा केन्द्र खोल सकते हो। आप सोच रहे होंगे कि ग्राहक सेवा केंन्द्र (CSP) क्या होता है, ग्राहक सेवा केन्द्र कैसे खोल सकते हैं, तो ये आर्टिकल आपके लिये ही है।

ग्राहक सेवा केन्द्र क्या होते हैं।

हमारे देश में 130 करोड से ज्यादा की जनसंख्या है लेकिन अभी तक सभी लोगों तक बैंको की सेवाऐं नही पहुॅच पाई हैं। जिसका कारण हैं बैंको की शाखाओं की संख्या का कम होना। आज भी देश के बहुत सारे इलाकों में बैंकों की पहुॅच सम्भव नही हो सकी है। इसलिये ग्राहक सेवा केन्द्रो की स्थापना की गई है। प्रधानमंत्री जनधन योजना के बाद ग्राहक सेवा केन्द्रों की उपयोगिता व महत्वता बढ गई है।

ग्राहक सेवा केन्द्र एक बैंकिंग सेण्टर होता है। जहाॅ पर ग्राहकों को बैंकिंग सेवाऐं दी जाती हैं। इन मे खाता खोलना, पैसा की जमा व निकासी करना, मनी ट्रांसफर, खाते से आधार कार्ड लिंक करना, खाते से मोबाइल नम्बर लिंक करना आदि सेवाऐं शामिल हैं। ग्राहक बिना बैंक जाऐ इन सेवाओं का लाभ ग्राहक सेवा केन्द्र पर ले सकता है। ग्राहक सेवा केन्द्र एक प्रकार से मिनी बैंक (Mini Bank) का काम करते हैं।

अन्य महत्वपूर्ण लिंक

ग्राहक सेवा केन्द्र खोलकर पैसे कमाऐं

अगर आपको बैकिंग सेक्टर मे दिलचस्पी है और खुद का कोई बिजनेस शुरू करना चाहते हो तो आप ग्राहक सेवा केन्द्र खोल सकते है। ग्राहक सेवा केन्द्र बहुत कम खर्चे में खोले जा सकते हैं और आप एक अच्छी इनकम कर सकते हो। ग्राहक सेवा केन्द्र चलाने वाले को केन्द्र संचालक या वीएई (vle – Village Level Entrepreneur) या व्यवसायिक सम्पर्की (BC- Business Correspondent) कहते हैं। ग्राहक सेवा केन्द्र से आप दो तरीको से पैसे कमा सकते हो।

  • बैंक द्वारा तनख्वाह या मानदेय पाकर
  • बैंकिंग कार्यों के बदले कमीशन प्राप्त करके

कुछ बैंक अपने ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों को मानदेय देती हैं जो कि 5 हजार से 10 हजार रूपये के बीच है। इसके अतिरिक्त ग्राहक सेवा केन्द्र संचालक को बैंकिंग सेवाऐं देने के बदले अच्छा खासा कमीशन मिलता है।

बैंक द्वारा वीएलई (VLE) को दिये जाने वाला कमीशन कितना होता है।

अलग अलग बैंको द्वारा अपने वीएलई को अलग-अलग कमीशन दिया जाता है। जो कि कुछ इस प्रकार होता है।

ग्राहक का खाता खोलने पर – 20 रूपये से 25 रूपये तक
प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना पर – 30 रूपये
प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना पर – 1 रूपये
नकदी की जमा व निकासी पर 0.3% से 0.5% तक
फण्ड ट्रांसफर पर – 10 रूपये
लोन रिकवरी पर – 2% से 10% तक
लोन प्रपोजल पर – 0.3% से 0.7% तक

इसके अतिरिक्त बैंकिंग सेवाओं में इस्तेमाल होने वाली स्टेशनरी जैसे फाॅर्म, पेन, कागज, फाइल्स कवर आदि का खर्चा भी बैंक के द्वारा भी वहन किया जाता है। इसके अलावा बैंक आपसे कोई अतिरिक्त कार्य लेती है तो उसके लिये आपको अलग से पैसे देती है। नोटबंदी के दौरान बैंको मे भीड को नियंत्रित करने, लोगों की मदद करने आदि के लिये वीएलई को 500 रूपये दैनिक भत्ता का भुगतान किया गया था।

इसके अतिरिक्त सरकार और बैंके दोनो कई बार ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों को परमानेंट करने पर विचार कर चुकी हैं। भविष्य में सभी ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों को यदि एक कर्मचारी मानकर पूर्ण वेतन भुगतान किया जाने लगे तो इसमे कोई हैरानी की बात नही हैं। ग्राहक सेवा केन्द्र खोलना पूर्णतः फायदे का सौदा है।

बैंकिंग कार्यों से अलग भी ग्राहक सेवा केन्द्र से इनकम की जा सकती है

जी हाॅ, ये पहली बार सुनने में शायद आपको जरूर अटपटा लगे, लेकिन ये सत्य है और लगभग सभी वीएलई बैंकिंग कार्यों के अतिरिक्त अन्य सेवाऐं देकर पैसा कमाते हैं। उन सेवाओं में ग्राहकों के फोटो खींचना, उनके डाॅक्यूमेंट की फोटो काॅपी करना, अन्य कम्यूटर कार्य, इंश्योरेंस पाॅलिसी बेचना आदि शामिल हैं।

ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने के लिये बैंक देता है 2 लाख रूपये का लोन

ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने के लिये बैंक 2 लाख रूपये का लोन भी देता है और उस पर लगने वाला ब्याज भी कम होता है। कुछ बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने से पहले ही लोन दे देती हैं वहीं कुछ बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने के बाद लोन देती हैं। इसलिये ग्राहक सेवा केन्द्र खोलना अन्य किसी बिजनेस के तुलना मे ज्यादा आसान होता है।

किस बैंक का ग्राहक सेवा केन्द्र खोल सकते हैं

अब सवाल ये उठता है कि आखिर किस बैंक का ग्राहक सेवा केन्द्र खोला जा सकता है। शुरूआत में सार्वजनिक क्षेत्र की सभी बैंक जैसे स्टेट बैंक ऑफ इण्डिया, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ बडौदा आदि ग्राहक सेवा केन्द्र खोलती थी। लेकिन ग्राहक सेवा केन्द्र की उपयोगिता देखते हुये प्राइवेट सेक्टर की बैंक जैसे एचडीएफसी आदि भी ग्राहक सेवा केन्द्र खोलती हैं। वहीं अब पेमेट बैंक जैसे फिनो पेमेंट बैंक, पेटीएम पेमेंट बैंक आदि ने भी ग्राहक सेवा केन्द्र खोलना शुरू कर दिये हैं। अगर आप भी ग्राहक सेवा केन्द्र खोलना चाहते हो तो अपनी पसंद की कोई भी बैंक चुन सकते हो।

ग्राहक सेवा केन्द्र कौन खोल सकता है।

कोई भी व्यक्ति जो कि इण्टरमीडियेट पास हो और 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुका हो वो ग्राहक सेवा केन्द्र खोल सकता है। ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने के लिये आपको जिन संसाधनों की आवश्यकता पडेगी वो नीचे दिये गये हैं।

  • आपके पास कम से कम 200 वर्ग फुट की जगह होनी चाहिये।
  • एक अच्छी क्वालिटी का लैपटाॅप या कम्पयूटर होना चाहिये।
  • एक रंगीन या ब्लैक एण्ड व्हाइट प्रिंटर
  • फिंगर प्रिंट डिवाइस
  • इण्टरनेट कनेक्शन
  • एक अलमारी
  • एक टेवल और कुछ कुर्सियां

ग्राहक सेवा केन्द्र कैसे खोलें

अब आते हैं कि आखिर ग्राहक सेवा केन्द्र कैसे खोलें। इसके लिये कैसे अप्पलाई करें। बैंक ग्राहक सेवा केन्द्र दो प्रकार से खोलती हैं एक सीधे व दूसरा किसी अन्य कम्पनी के जरिये। जो बैंक सीधे ग्राहक सेवा केन्द्र खोलती हैं वे इसके लिये समाचार पत्र में विज्ञापन प्रकाशित करवाती हैं। ज्यादातर बैंक किसी कम्पनी के माध्यम से ग्राहक सेवा केन्द्र खुलवाती हैं। बहुत सी ऐसी कम्पनियाॅ हैं जो ग्राहक सेवा केन्द्र खोलती हैं। जिनमे CSC, vakrangee, VK Venture प्रमुख हैं। आपको इन कम्पनी के बेबसाइट पर जाकर ग्राहक सेवा केन्द्र के लिये अप्पलाई करना होगा। उस कम्पनी का प्रतिनिधि आपको काॅल करेगा और पूरी प्रक्रिया समझाऐगा। वही आपको ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने में आपकी मदद भी करेगा।

ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने में कितने रूपये का खर्चा आता है

कम्पनी द्वारा आपसे 20 हजार रूपये का एक डिमांड ड्राफ्ट लिया जाता है। जिसके बदले में कम्पनी आपको फिंगर प्रिंट डिवाइस, साॅफ्टवेयर, प्रमोशनल मैटेरियल व ट्रैनिंग देती है। इसके अतिरिक्त अपने ग्राहक सेवा केन्द्र में अन्य जरूरी सामना जैसे कम्प्यूटर व फनीचर आदि का खर्चा आपको खुद करना होता है। एक ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने में 60 हजार से 80 हजार रूपये तक का खर्चा आता है।

अंत में – उम्मीद है आपको ग्राहक सेवा केन्द्र क्या होता है व ग्राहक सेवा केंद्र कैसे खोले आदि से जुडी सभी जानकारी मिल गई होगी। फिर भी आपको ग्राहक सेवा केन्द्र से जुडी अन्य कोई जानकारी चाहिये तो आप नीचे कमेंट बाॅक्स में पूंछ सकते हैं। हमारी टीम द्वारा आपकी पूरी मदद की जाऐगी। आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कैसी लगी ये भी आप कमेंट बाॅक्स में बता सकते हैं।

51 thoughts on “ग्राहक सेवा केंन्द्र (CSP) कैसे खोलें, पूरी जानकारी हिन्दी में”

  1. बहुत बढ़िया जानकारी दी भाई आपने…… मैं भरतपुर,राजस्थान में ग्राहक सेवा केंद्र खोलना चाहता हूं, कोई कांटेक्ट नंबर हो तो जरूर दीजिये

    Reply
    • सभी बैंक के ग्राहक सेवा केन्द्रों में अच्छी इनकम हैं बस थोडी कम या ज्यादा हो सकती है। लेकिन बैंक आॅफ बडौदा में कुछ सेवाऐं बहुत अच्छी हैं जिससे ग्राहक ज्यादा बैंक आॅफ बड़ौदा के ग्राहक सेवा केन्द्र पर आते हैं और ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों को ज्यादा इनकम होती है।

      Reply
    • ग्राहक सेवा केन्द्र लेने के लिये आप सीएसी कम्पनी से सम्पर्क कर सकते हैं। आपके जिले में उनका डिस्ट्रिक मैनेजर होगा। उन से बात करिये वो आपकी पूरी मदद करेंगे।

      Reply
    • आप किसी भी सीएससी प्रदाता से सम्पर्क कर सकते हैं। इण्टरनेट पर आपको इसके बारे में और जानकारी मिल जाऐगी। मेरा नया आर्टिकल जल्द ही प्रकाशित होने वाला है ​जहॉं पर भी आपको पूरी जानकारी मिल जाऐगी। तब तक हमसे जुड़े रहिये। धन्यवाद

      Reply
    • आप किसी भी सीएससी प्रदाता से सम्पर्क कर सकते हैं। इण्टरनेट पर आपको इसके बारे में और जानकारी मिल जाऐगी। मेरा नया आर्टिकल जल्द ही प्रकाशित होने वाला है ​जहॉं पर भी आपको पूरी जानकारी मिल जाऐगी। तब तक हमसे जुड़े रहिये। धन्यवाद

      Reply
    • अगर बैंक नही सुन रहा तो दूसरी बैंक से ट्राय करें। बिना बैंक की अनुमति के सीएसपी मिलना आसान नही है

      Reply
  2. मुझे ग्राहक सेवा केंद्र खोलना है कैसे चालू करें आईडी लेनी है कोई भी कंपनी की

    Reply
  3. मेरा नाम FIROZ है मैं मेरा में उत्तर प्रदेश भर नगर का रहने वाला हूं मैं ऑक्सीजन कंपनी बी सी ब्रांच में सन फार्म जमा करके पैसे भी जमा कर दिया था लेकिन इन लोगों ने bc1 आज नहीं दिया मेरा ₹70000 खर्चा हो गया भाई लोग 420 वाला काम करते हैं भाई जो भी करना इसमें देखकर कन्हैया मेरे पैसे भी रिटर्न नहीं करें मैंने भी होता है कई जवान भी सिद्धार्थनगर का है

    Reply
    • आपने जिसको पैसा दिया है उसके कहिये कि या तो सेंटर लगा कर दे या पैसा वापस करे। पैसा वापस ले लो उसमें ही भलाई है क्योंकि उसने 70 हजार रूपये लिया है जो कि बहुत ज्यादा है। अगर नही देता है तो आप शिकायत दर्ज कर सकते हो।

      Reply
    • बैंक कोड क्यों नही दे रही है इसका कारण पता करो, हो सकता है बैंक के पास पहले से ज्यादा बीसी हों, या फिर ये भी हो सकता है कि मैनेजर जानबूझ कर नही दे रहा हो। इसके लिये आप दो काम कर सकते हो, पहला तो मैनेजर का ट्रांसफर होने तक इंतेजार करो या फिर किसी ऐसे बीसी को देखो जो सेंटर बंद कर रहा हो तो मैनेजर से रिक्वेस्ट करों कि उसकी जगह आपको रिप्लेस कर दिया जाऐ। बैंक के रीजनल आफिस में भी बात कर सकते हो। उनके नम्बर आपको इंटरनेट पर मिल जाऐंगे।

      Reply
    • देखिये अगर लेन—देन करना हैं तो केस आपको अपने पास रखना ही है। इसके लिये बैंक ओवरड्राफ्ट देती है। आप बैंक से ओवर ड्राफ्ट के लिये कह सकते हो। बीसी को मिलने वाला ओवरड्राफ्ट अन्य खातों से अलग प्रकार का होता है इस पर ब्याज नही लगती है। लेकिन इसके कुछ नियम हैं जिन्हें आप बैंक से पता कर सकते हो।

      Reply
  4. mene pnb csp ke liye aplai kiya tha oxigen componey ne mauj se 170000 rupeey lot liye .paare bhaeyo csp ke lekh likne ke enhe pesa melta hi aur jetne log enke aartikal ko padh kar enki bato me aa jate hi aur apne jeevan ki kamaei luta dete hi /ese artikal lekhne walo per f i r kabani cheye

    Reply
  5. नमस्कार सर, नाशिक तालुका मै मेरे गाव से 2 किमी पर दुसरे गाव मे Bank of Maharashtra
    का branch हे, ऊसी गाव मे वह bank का एक आदमी बँक मित्र का काम करता आ रहा हे, तो मेरे पास पार्ट टाईम डेअरी शाँप हे लोगोको मे अभी फ्री मे online लेनदेन कि जानकारी भी देता हु, सुबह-शाम मे मेरे डेअरी पर ये बँक का काम भी देख सकता हु, मेरे.पास computer का MSCIT का सर्टिफिकेट भी हे, तो मुझे ये काम मिल सकता हे क्या …।या बँक मे जाकर मँनेजर से कैसे बात करू…मुझे Guidance करो

    Reply
  6. मुझे पीएनबी बैंक का सीएसपी खोलना है, तो मैने बैंक मैनेजर से बात की तो उन्होंने कहा कि इसके लिए वेकेंसी निकलती है तब सीएसपी खोला जाता है तो क्या ये सही ह

    Reply
    • जी आप इसे पढ़ाई के साथ खोल तो सकते हैं लेकिन आपको थोड़ा सा बैलेंस बिठाना होगा, जिससे ग्राहक को ठीक सर्विस भी दे सको और पढ़ाई भी कर सको

      Reply

Leave a Comment